Internet ki duniya ki puri jankari hindi me

Wednesday, 31 August 2016

मित्रता- तीन दोस्तो की सच्ची मित्रता की कहानी

(सच्ची मित्रता) एक तीन सच्चे दोस्तो की कहानी-

एक जंगल था। जिसमे एक बरगद का पेड़ था। उस पेड़ पर बहुत सारे पछी रहते थे। जिसमे से एक कौआ भी बहा रहता था। और बहिं उसी पेड़ के पास एक चुहा भी रहता था। एक दिन चूहे ने अपने बिल से गर्दन को बाहर निकाला और देखने लगा की सुबह हो गयी है या नही।
जब उसने देखा की सुरज निकल आया है तब चूहे ने सोचा के क्यों न अब कुछ ख़ा लिया जाये। उसको भूख भी लग रही थी।

जहां पर चूहे का बिल था बहीं पेड़ पर बो कौआ भी रहता था। कौआ ने जब चूहे को देखा तो उसने चूहे से कहा के भैया बाहर निकल आओ और मुझसे दोस्ती कर लो।
चूहे ने कहा नही बाबा ना अगर मे बाहर आया तो तुम मुझको चट कर जाओगे।
इतने मे बहाँ एक हिरण आता है और कोआ उस हिरण कोे राम राम कहता है। दोनो मित्र बहुत खुश होते है।
तब हिरण भी चूहे से कहता है की भैया बाहर आ जाओ और हमसे मित्रता कर लो।

हिरण की बात को सुनकर चुहा अपने बिल से बाहर निकल आया और बो तीनो गहरे मित्र बंन जाते है।उनकी दोस्ती खूब जमती है और बह खूब मौज मस्ती करते हैँ।

लेकिन एक दिन शाम हो जाती है और हिरण अपने घर को बापस  नही आता हे। तब चूहा ने कोए से कहा की कोए भैया आज हिरन क्यों नही आया,

कोआ कहता है की तुम यहां रुको मे हिरण को देखकर आता हूँ, बस इतना कहकर कोआ बहां से उड़ जाता है और हिरण की तलास मे जुट जाता हे।

बह उड़ते हुए एक बहुत घने जंगल मे पहुँच जाता हे और देखता हे की हिरन एक जाल मे फंसा हुआ था।

बह हिरन के पास आ जाता है और उससे कहता हे की भैया तुम यही इंतजार करो मे अभी आता हूँ। इतने मे कोआ बहॉ से उड़ गया और उस बरगद के पेड़ के नीचे पहुंच कर चूहे को पुकारता है तब चुहा तुरंत बहां आ गया। कोए ने उसको हिरन की पूरी दास्तान सुनाई।

और बो दोनो बहां पहुंच गए जहां पर हीरन को शिकारी ने बांध रखा था।
इतने मे कोया पेड़ पर बैठ गया और चूहे से कहा।
दोस्त- तुम जाल को कुतर दो। मैं शिकारी को ऊपर से देखता हु।

देर न करते हुए बह जाल को पूरा कुतर देता है और हीरन को बाहर निकाल लेता है।

तब कोए अबाज़ लगाता है की भागो भागो शिकारी आ रहा है। तब बो भाग जाते हँ और तब तक सांस नही लेते जब तक उस बरगद के नीचे नही पहुंच जाते।।
फिर बो तीनो अपनी जिंदगी एक साथ हस्ते खेलते निभाते है।

तो मेरे प्यारे मित्रो आपने इस कहानी से क्या सीखा।
सच्ची मित्रता सभी से बढ़कर होती है।


ऐसी ही और रोचक कहानियो के लिए clickmehindi को visit करते रहै।
एंड intetnet और technology से जुड़ी सभी जानकारी हिन्दी मे पाने के लिए www.clickmehindi.com को visit करना न भूले।

1 comments:

जमशेद आज़मी said...

बहुत ही अच्‍छी कहानी प्रस्‍तुत की है आपने। लेकिन आपकी पोस्‍ट खुलने से पहले एक मूवी डाउनलोड का पेज ओपन हो रहा है। जिसे एंटीवायरस बेहद हार्मफुल का नोटिस दे रहा है। यदि आपने कोई इस तरह का विज्ञापन सेट कर रखा है, तो यह आपके विजिटर और पेज व्‍यूज पर गहरा प्रभाव डालेगा। इसलिए इसको देखिए।

Post a Comment

Recent Posts

Your Name:
E-mail Address *:
Message *:

Unordered List

Blog Archive

copyright 2016. Powered by Blogger.